Home Uncategorized गृह मंत्री ने किया नवीन राजिम मेला स्थल का अवलोकन…

गृह मंत्री ने किया नवीन राजिम मेला स्थल का अवलोकन…

8
0

गरियाबंद छत्तीसगढ़

मेला स्थल को स्थायी रूप से विकसित किया जायेगा, फोरलेन के तर्ज पर सड़क बनाने के निर्देश, मेला स्थल में सभी सुविधाएं होगी मौजूद

गरियाबंद 26 दिसम्बर 2020 प्रदेश के लोक निर्माण, गृह, धर्मस्व एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू आज राजिम मेला के लिए चयनित नये स्थल का अवलोकन किया। उन्होंने स्थल पर चल रहे कार्यो का जायजा लेते हुए शीघ्रता से नवीन स्थल को राजिम मेला के लिए स्थायी रूप से विकसित करने के निर्देश दिये। प्रभारी मंत्री श्री साहू राजिम में कबीर आश्रम के पास अतिक्रमण से मुक्त कराये गये धरसा का अवलोकन किया।

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में श्रद्धालुओं की आवश्यकता, स्थानीय नागरिकों के सुझाव और आगामी 100 सालों को ध्यान में रखते हुए अधोसंरचना विकास के कार्य किये जाए। स्थल का विकास इस तरह किया जाए कि श्रद्धालुओं को यह स्थान आकर्षित करे।

इस स्थान को राम वनगमन परिपथ से भी जोड़ा जायेगा। श्री साहू ने मंदिर दर्शन आने-जाने के लिए फोर लेन सड़क के तर्ज पर सड़क विकसित करने कहा है। उन्होंने कहा कि पैदल यात्रियों के लिए आने-जाने के लिए अगल से चैड़ी सड़क हो। वहीं कबीर आश्रम के समीप पार्किंग विकसित किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि नदी में बारहमासी पानी की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जायेगी। भविष्य में नदी में लगने वाले टेंट और अन्य दुकानें को इसी स्थल पर स्थानांतरित किया जायेगा।

श्री साहू ने चैबेबांधा पुल पर भी स्थल का अवलोकन किया। इस अवसर पर मंत्री श्री साहू ने कहा कि इस वर्ष राजिम माघी पुन्नी मेला कोविड संक्रमण की परिस्थिति पर निर्भर करेगा, लेकिन नवीन स्थल पर विकास कार्य जारी रहेगा। कलेक्टर श्री निलेशकुमार क्षीरसागर ने बताया कि लगभग 20 मीटर चैड़ी सड़क के लिए धरसा को अतिक्रमण मुक्त कर उस पर कार्य प्रारंभ हो गया है। उन्होंने बताया कि अन्य विकास कार्य राज्य शासन के मंशानुरूप प्रारंभ किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा विगत वर्ष 25 एकड़ से अधिक जमीन चिन्हांकन करने के निर्देश जिला प्रशासन को दिये थे। निर्देशानुसार चैबेबांध रोड़ पर राजिम क्षेत्र में 14.32 हेक्टेयर एवं चैबेबांधा में 7.23 हेक्टेयर क्षेत्र में राजिम मेला के लिए स्थायी रूप से जगह का चिन्हांकन किया जाकर उसे विकसित करने की प्रक्रिया प्रारंभ है। यहां पर धर्मशाला, गार्डन, तटबंध, शौचालय, मंदिर जैसे निर्माण किये जायेंगे। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री भोजराम पटेल, जिला पंचायत सीईओ श्री चन्द्रकांत वर्मा, अपर कलेक्टर श्री जे.आर. चैरसिया, अनुविभागीय अधिकारी राजिम श्री जी.डी. वाहिले, जनपद पंचायत फिंगेश्वर की अध्यक्ष श्रीमती पुष्पा साहू, श्री भावसिंह साहू एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि, नागरिक मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here